सचेत

तमिलनाडु: लॉकडाउन में चुराई बाइक, अनलॉक में कर दी वापस

तर्कसंगत

Image Credits: Jansatta

June 2, 2020

SHARES

तमिलनाडु के कोयंबटूर से ऐसी घटना सामने आई जिस पर आसानी से यकीन कर पाना मुश्किल है। यहां एक शख्स ने घर पहुंचने के लिए पहले तो बाइक चुराई और फिर दो सप्ताह बाद उसे कोरियर के जरिए मालिक के पास वापस भेज दिया।

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की खबर के मुताबिक तिरुवरूर जिले के मन्नारगुड़ी में पल्लापलायम गांव निवासी प्रशांत कुमार (30) कोयंबटूर की एक बेकरी में काम करता था। लॉकडाउन के कारण उसकी नौकरी चली गई और वह घर जाने की फिराक में था।

उस दौरान उसे कोई साधन नहीं मिला तो उसने कोयम्बटूर के सुल्लुर निवासी सुरेश कुमार (34) की एक बाइक चुरा ली। टाइम्स ऑफ़ इंडिया को मालिक सुरेश ने बताया कि बाइक चोरी होने के बाद उसने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई थी, लेकिन पुलिस ने लॉकडाउन के बाद कार्रवाई करने की बात कही।

इसके बाद उससे रहा नहीं गया और उसने सारे रास्तों की CCTV फुटेज खंगालना शुरू कर दिया। इसमें प्रशांत उसे बाइक ले जाता हुआ दिखाई दे गया। इसके बाद सुरेश ने वीडियो से उसकी फोटो को काटकर व्हॉट्सऐप पर डालना शुरू कर दिया और बाइक चोर का पता लगा लिया।

इधर घर पहुँचने पर प्रशांत से रहा नहीं गया और उसने पंजीयन नंबर के जरिए बाइक मालिक का पता हासिल कर लिया। इसके बाद उसने एक कोरियर कंपनी से संपर्क कर उस बाइक को वापस मालिक के पते पर भिजवा दिया।

बाइक मालिक सुरेश ने बताया कि जब वह प्रशांत के गांव जाने की योजना बना रहा था तो रविवार दोपहर उसके फोन पर एक कोरियर कंपनी का फोना आता है और उसे बाइक लेने के सूचना दी जाती है। यह सूचना पाकर वह जब कोरियर ऑफिस जाता है तो वहां उसे उसकी ही बाइक मिलती है। हालाँकि सुरेश ने बताया कि प्रशांत ने बाइक ‘पे एट डिलीवरी’ के जरिए भेजी थी। ऐसे में जब वह बाइक लेने के लिए जाता है तो उसे कोरियर कंपनी को पैकेजिंग शुल्क के 1,400 रुपये देने पड़े, मगर 1400  अपनी बाइक मिलने पर भी सुरेश खुश हैं।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...