ख़बरें

सूरत : आज से कपड़ा व्यापारियों को दूकान खोलते बंद करते समय वंदेमातरम और राष्ट्रगान गाना होगा

तर्कसंगत

Image Credits: Naya Savera

July 13, 2020

SHARES

गुजरात में कोरोना का कहर जारी है. गुजरात के सूरत ज़िले में कपड़ा और हीरा उद्योग पर कोरोना की सबसे ज्यादा मार पड़ी है. आखिरकार सूरत में लॉकडाउन और कोरोना के चलते बंद पड़ी टेक्सटाइल दुकानों को खोलने का निर्देश दे दिया गया है. सूरत नगर निगम (एसएमसी) ने कपड़ा व्यापारियों को अपनी दुकानें खोलने के लिए दिशआ-निर्देश जारी किए है. लेकिन निर्देशों में कपड़ा व्यापारियों को अपनी दुकानें खोलते वक्त वंदे मातरम और बंद करने के दौरान राष्ट्रगान गाने के लिए कहा है.

न्यू इंडियन एक्सप्रेस ने कहा है शनिवार को जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार सूरत नगर निगम (एसएमसी) ने कपड़ा व्यापारियों को अपनी दुकानें खोलते समय वंदे मातरम गाने और उन्हें बंद करते समय राष्ट्रगान गाने के लिए कहा है. शनिवार को जारी निर्देशों के अनुसार इस नियम का पालन करना अनिवार्य हैं.

कोविड19 महामारी के प्रसार के लिए एसएमसी के टाउन प्लानर द्वारा हस्ताक्षरित दिशानिर्देश में कर्मचारियों को “हारेगा कोरोना, जीतेगा सूरत” और “एक लक्ष्य हमारा हैं,कोरोना को हारना हैं” जैसे प्रेरक नारे को रोज बोलने का निर्देश दिया है. इसके साथ साथ व्यापारियों को एक प्रतिज्ञा लेने के लिए भी कहा गया है.

मैं महामारी को रोकने के लिए सभी दिशानिर्देशों का पालन करूंगा, सरकार द्वारा निर्धारित किया जाएगा, और सभी सुरक्षा उपायों को अपनाऊंगा और महामारी फैलने से रोकने के लिए अपना काम करूंगा.”

ये दिशानिर्देश सूरत में एक सप्ताह से अधिक समय से डेरा डाले हुए स्वास्थ्य और परिवार कल्याण प्रमुख सचिव जयंती रवि के साथ एसएमसी अधिकारियों और फेडरेशन ऑफ सूरत टेक्सटाइल ट्रेडर्स एसोसिएशन (FOSTTA) के सदस्यों की बैठक के बाद जारी किए गए थे.

राज्य के प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य और परिवार कल्याण) जयंती रवि, एसएमसी अधिकारियों और फेडरेशन ऑफ सूरत टेक्सटाइल ट्रेडर्स एसोसिएशन (एफओएसटीटीए) के सदस्यों के साथ बैठक के बाद दिशानिर्देश जारी किए गए हैं. सूरत के नगर आयुक्त बीएन पाणी ने कहा, ‘दुकानें खोलते समय ‘वंदे मातरम’ और दुकानें बंद करते समय ‘जन गण मन’ गाना राष्ट्रीय एकता बनाने और कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए एक युद्ध घोष करने के लिए है.’ सूरत देश में मैन मेड फाइबर (एमएमएफ) का केंद्र है. यहां पर लगभग 170 कपड़ा व्यापार बाजार हैं, जिसमें 65,000 से अधिक दुकानें हैं. दिशानिर्देशों के कड़ाई से पालन के साथ कपड़ा बाजार सोमवार से सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक ऑड-इवन तरीके से खुलेगा.

सूरत शहर में अब तक 6,727 कोरोना पॉजिटिव मामलेसामने आए हैं और 267 मौतें हुई हैं. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार, 600 से अधिक हीरा पॉलिश करने वाले और 300 से अधिक कपड़ा व्यापारी कोरोना से संक्रमित हुए हैं. बता दें, गुजरात में शनिवार को कोरोना वायरस के 872 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 41,027 पहुंच गई है. राज्य स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. विभाग ने बताया इस महामारी से 10 और लोगों की मौत होने से मृतक संख्या 2,034 हो गई है.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...