ख़बरें

वीडियो देखिये, यूपी के हापुड़ में फल वाले के ठेले को नाले में पलटने का पुलिस पर लगा आरोप

तर्कसंगत

Image Credits: Twitter/Samajwadi Party

July 20, 2020

SHARES

उत्तर प्रदेश का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है.जिसमें एक फल विक्रेता को नाले में देखा जा सकता है. इस वीडियो के माध्यम से लोग यूपी प्रशासन के रवैया पर उंगली उठा रहे हैं.

फल विक्रेता ने पुलिस पर मारपीट करने के बाद फलों से भरे ठेले को गंदे नाले में फेंकने का गंभीर आरोप लगाया है. हालांकि पुलिस ने सफाई देते हुए ऐसी किसी घटना से इनकार किया है.

 

 

जानकारी के अनुसार, लॉकडाउन के बाद अपने परिवार का पालन पोषण करने के लिए हापुड़ नगर कोतवाली क्षेत्र के रहने वाले रोहताश सिंह और अशोक कुमार फलों का ठेला लगाते थे. अशोक और रोहताश ने गुरुवार को नगर कोतवाली क्षेत्र के पक्काबाग के पास फलों का ठेला लगाया हुआ था. आरोप है कि तभी नगर कोतवाली पुलिस गाड़ी में सवार होकर वहां पहुंच गई और ठेले वालों पर लाठी भांजना शुरू कर दिया. बताया जा रहा है कि इसी दौरान पुलिस ने एक गरीब का फलों भरा ठेला उठाकर पास के एक गंदे नाले में फेंक दिया.

इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने सफाई दी और कहा कि पुलिस का हूटर सुनकर फल विक्रेता खुद ही ठेला लेकर भाग रहे थे और उसी आपाधापी में एक ठेला नाले में गिर गया.

 

 

वहीं इस मामले को लेकर राजनीतिक दलों ने भी सरकार को घेरना शुरू कर दिया है. समाजवादी पार्टी ने इस मामले को लेकर एक ट्ववीट किया है.जिसमें इस वायरल वीडियो को सामने रखते हुए यह दावा किया जा रहा है कि हापुड़ में गरीब ठेले वाले के फलों को नाले में पलटा गया. समाजवादी पार्टी ने पुलिस के उपर प्रहार करते हुए इसे वर्दी का रौब और हेकड़ी दिखाना कहा है.

समाजवादी पार्टी ने राज्य सरकार से अपील की है कि वैश्विक महामारी काल में लोगों की मदद करने के बजाय उनका शोषण, दमन और उत्पीड़न कर रही पुलिस पर लगाम लगाया जाए.वहीं मामले का संज्ञान लेकर दोषियों पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की गई है.

 

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...