ख़बरें

देखें वीडियो, 24 घंटे से भी ज़्यादा समय तक कोरोना के मरीज का शव पड़ा रहा, वार्ड में भर्ती हैं 7 कोरोना मरीज़

तर्कसंगत

Image Credits: Twitter/Manish

July 22, 2020

SHARES

पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल (एनएमसीएच) के आइसोलेशन वार्ड में कोरोना के एक मरीज का शव दो दिन तक पड़ा रहा। उसी वार्ड में कोरोना के 7 अन्य मरीज भर्ती हैं। शव को नहीं हटाने से मरीज और उनके परिजन में गुस्सा है।

वार्ड में शत्रुघ्न कुमार की मां भर्ती हैं। उन्होंने नर्स, वार्ड ब्वॉय और अन्य अस्पताल के कर्मचारियों से कई बार गुहार लगाई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद शत्रुघ्न ने वार्ड के अंदर की स्थिति का वीडियो बनाकर सार्वजनिक किया। अब वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

 

 

रविवार दोपहर को हुई थी मौत

शत्रुघ्न ने बताया कि एक मरीज की मौत रविवार दोपहर में हो गई थी। इसके बाद उसे एक गमछे से ढंककर छोड़ दिया गया। आज दूसरा दिन है। शव नहीं हटाया गया है। अब तो बदबू भी आने लगी है। उसी वार्ड में मेरी मां भर्ती हैं। उन्होंने खाना छोड़ दिया था, किसी तरह आज एक रोटी खिलाई है। वार्ड में शव रहने से उसमें भर्ती अन्य मरीजों की स्थिति भी खराब हो रही है। मैं और अन्य मरीज के परिजन ने कई बार अस्पताल के कर्मचारियों से शव हटाने की गुहार लगाई, लेकिन हर बार आधे घंटे और एक घंटे में शव हटाने का आश्वासन दिया गया, लेकिन हटाया नहीं गया

सोशल मीडिया पर कई वीडियो सामने आए हैं, जिसमें लोग राज्य के अस्पतालों में अपर्याप्त सुविधाओं और लापरवाही की शिकायत कर रहे हैं। कटिहार में, अस्पताल के कर्मचारियों द्वारा ऑक्सीजन सिलेंडर प्रदान करने में विफल रहने के बाद ऑक्सीजन की कमी के कारण एक मरीज की मौत हो गई।

17 जुलाई को, राजद नेता तेजस्वी यादव ने एक वीडियो साझा किया, जिसमें मरीज राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे के गृहनगर सिवान के एक अस्पताल में डॉक्टरों और नर्सों की कमी की शिकायत कर रहे थे।

हालाँकि, बिहार सरकार ने विपक्षी दलों और सदस्यों द्वारा लगाए जा रहे आरोपों को खारिज कर दिया है।

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...