सचेत

स्वास्थ्य मंत्रालय की चेतावनी: धूम्रपान करने वालों पर अधिक है कोरोना वायरस का खतरा

तर्कसंगत

Image Credits: National Herald

July 29, 2020

SHARES

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार धूम्रपान करने वालों पर कोरोना वायरस की चपेट में आने का सबसे ज्यादा खतरा है।

इसी तरह तंबाकू चबाने वालों पर तेजी से श्वसन संक्रमण फैलने का खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में स्वास्थ्य मंत्रालय ने धूम्रपान और तंबाकू से बचने की चेतावनी जारी की है। हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक स्वास्थ्य मंत्रालय ने ‘भारत में कोरोना महामारी और तंबाकू का उपयोग‘ शीर्षक से जारी चेतावनी में कहा है कि विशेषज्ञों के अनुसार धूम्रपान करने वालों में कोरोना वायरस के गंभीर लक्षण सामने आने या उनकी मौत होने का सबसे अधिक खतरा है।

इसका कारण है कि धूम्रपान मुख्य रूप से फेफड़ों पर सीधा हमला करता है। ऐसे में धूम्रपान करने वालों को कोरोना से बचने के लिए अधिक सचेत रहने की जरूरत है।

धूम्रपान करने वाले लोग अपने अंगुलियों से दूषित सिगरेट को अपने होठों तक ले जाते हैं। ऐसे में उनके मुंह के जरिए कोरोना का संक्रमण फैलने का सबसे बड़ा खतरा है। इसी तरह हुक्का पीने वालों में भी संक्रमण का बड़ा खतरा है। इसका कारण है कि हुक्के के पाइप को कई लोग मुंह में लेते हैं। ऐसे में संक्रमित व्यक्ति के पाइप मुंह में लेने के बाद अन्य सभी लोगों के संक्रमित होने का खतरा होता है।

मंत्रालय के अनुसार तंबाकू चबाने वालों में मुख्य रूप से गैर संचारी रोग जैसे- कैंसर, फेफड़े की गंभीर बीमारी और मधुमेह का सबसे अधिक खतरा होता है।

इसी तरह कोरोना वायरस इन बीमारी वाले लोगों को सबसे जल्दी अपनी जकड़ में लेता है। ऐसे में कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद तंबाकू चबाने वालों में गंभीर श्वसन संक्रमण रोग होने का खतरा रहता है। समय पर उपचार नहीं मिलने से उनकी मौत भी हो सकती है।

ग्लोबल एडल्ट टोबैको सर्वे-इंडिया (GATS2) के अनुसार भारत में 27 करोड़ लोग तंबाकू का सेवन करते हैं।

भारत दुनिया में तंबाकू उत्पादन और उपयोग के मामले में दूसरे पायदान पर है। भारत में धूम्रपान से सालाना 9.30 लाख और तंबाकू चबाने से 3.50 लोगों की मौत होती है। इस तरह से से भारत में तंबाकू और धूम्रपान से प्रतिदिन 3,500 मौते के हिसाब से सालाना 12.80 लाख लोगों की मौत हो जाती है। भारत में होने वाले कुल मौतों में से 30 प्रतिशत मौत 30 साल या उससे अधिक आयु के लोगों की होती है और सभी मौत का कारण तंबाकू चबाना या धूम्रपान करना है। तंबाकू आज दुनिया में मौत और बीमारी का सबसे प्रमुख कारण है।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...