ख़बरें

वीडियो देखें, बलिया में एसडीएम की लठबाजी का वीडियो वायरल, मुख्यमंत्री ने किया निलंबित

तर्कसंगत

Image Credits: Twitter/Hindi News

August 21, 2020

SHARES

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बलिया के बेल्थरा रोड में लोगों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटने वाले मामले में एसडीएम (SDM) को निलंबित कर दिया है. एसडीएम की पिटाई से कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे. एक दुकानदार का तो हाथ ही फट गया था.

 

 

बलिया में कोरोना के रोकथाम के लिए बेल्थरा तहसील में तैनात SDM अशोक चौधरी ने गुरुवार को सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं करने वालों और मास्क नहीं पहनने वालों के खिलाफ अचानक अभियान शुरू कर दिया. एसडीएम अपनी टीम के साथ पूरे एक्शन में दिखे. उन्होंने तहसील में मौजूद फरियादियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटना शुरू कर दिया. इस बीच किसी ने एक्शन में आए एसडीएम साहब का वीडियो बना लिया, अब ये वीडियो शहर में तेजी से शेयर हो रहा है.

 

 

न्यूज़ 18 की रिपोर्ट में कहा गया है कि सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क के नाम पर तहसील में आए लोगों को दौड़ा दौड़ाकर पीटा. यही नहीं, इस दौरान बुजुर्गों को भी नहीं बख्शा गया. तहसील के बाहर स्थित दुकानों पर मौजूद कारोबारियों को भी दुकानों से निकाल निकाल कर पीटा. इस दौरान एसडीएम तो लाठियों से पीटते ही रहे उनके साथ मौजूद पुलिस वालों ने भी लोगों पर जमकर डंडे बरसाएं. कई दुकानदारों को चोटें भी आईं.

पुलिस व होमगार्ड के जवानों के साथ तहसील परिसर में लोगों की पिटाई करने के बाद वह बाजार की ओर चल पड़े. सड़क से गुजरते समय बाइक सवार लोगों पर लाठी बरसाई.

इसके बाद वह चौकिया मोड़ पर पहुंचे जहां अपनी किराने की दुकान पर मौजूद रजत चौरसिया को दुकान से बाहर खींचकर पिटाई करने लगे. एसडीएम की पिटाई से उसका एक हाथ फट गया और खून बहने लगा. भाई को बचाने व एसडीएम के सामने अपना पक्ष रखने पहुंचे आशुतोष चौरसिया को भी उपजिलाधिकारी ने लाठियों से पीटा और जवानों के साथ उभांव थाना भेज दिया.

 

 

स्थानीय लोगों का कहना है कि सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं करने व मास्क नहीं लगाने पर जुर्माना व महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई करने का प्रावधान है. ऐसे में एसडीएम द्वारा लोगों को लाठियों से पीटना पूरी तरह से गलत है.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...