ख़बरें

कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन को मिली भाजपा की माफ़ी, 13 महीने बाद हुई घर वापसी

तर्कसंगत

Image Credits: Financial Express

August 25, 2020

SHARES

बीजेपी ने सोमवार को हरिद्वार जिले के खानपुर से विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन का निष्कासन रद्द करते हुए उन्हें वापस पार्टी में शामिल कर लिया.  प्रदेश  बीजेपी अध्यक्ष बंशीधर भगत ने यहां यह घोषणा की.

बार—बार विवादों में घिरे रहने वाले विधायक चैंपियन का एक विवादास्पद वीडियो सामने आने के बाद उन्हें पिछले साल 17 जुलाई को बीजेपी ने पार्टी से छह साल के लिये निष्कासित कर दिया था. वायरल वीडियो में विधायक अपने समर्थकों के साथ शराब पीते और हाथ में बंदूक उठाये नृत्य करते दिखायी दिए थे.

जून 2019 में अनुशासनहीनता तथा नयी दिल्ली में उत्तराखंड निवास में एक पत्रकार को धमकी देने के आरोपों की जांच के बाद चैंपियन को तीन माह के लिए निलंबित किया गया था और पार्टी गतिविधियों में शामिल होने पर रोक लगा दी गयी थी.  वर्ष 2016 में कांग्रेस की हरीश रावत सरकार के खिलाफ बगावत करने वाले नौ विधायकों में चैंपियन भी शामिल थे. बाद में उन्होंने अन्य कांग्रेसी विधायकों की तरह बीजेपी का दामन थाम लिया था.

भाजपा प्रांतीय अध्यक्ष भगत ने बताया कि चैंपियन ने अपने क्रियाकलापों पर खेद जताया और विश्वास दिलाया कि वे पार्टी के रीति-नीति पर चलेंगे. उनके पिछले 13 माह के निष्कासन अवधि में मर्यादित व्यवहार को देखते हुए उन्हें दोबारा पार्टी में लिया गया. कहा कि विधायक देशराज कर्णवाल ने भी  खेद जताया है. उन्हें भी पार्टी ने क्षमादान दे दिया है.

चैंपियन ने हाथ जोड़कर पार्टी नेताओं का आभार जताते हुए कहा कि उनसे पूर्व में जो गलतियां हुई थी,वे पहले भी खेद जता चुके थे और अब फिर देवभूमि के लोगों से माफी मांगते हैं. इस दौरान राज्यमंत्री डा. धन सिंह रावत, पार्टी के प्रांतीय महामंत्री (संगठन) अजेय कुमार, प्रांतीय महामंत्री राजेंद्र भंडारी, प्रांतीय उपाध्यक्ष डा. देवेंद्र भसीन, प्रांतीय कोषाध्यक्ष पुनीत्त मित्तल, प्रवक्ता विनय गोयल आदि मौजूद रहे.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...