ख़बरें

ICMR: ‘बच्चे, बूढ़े नहीं गैरज़िम्मेदार लोग फैला रहे हैं कोरोना संक्रमण’

तर्कसंगत

Image Credits: Livemint

August 26, 2020

SHARES

मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रेस कॉन्फ्रेंस में भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने देश में तेजी से बढ़ती संक्रमण की रफ्तार को लेकर बयान दिया है। ICMR के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने कहा कि जो लोग मास्क नहीं पहन रहे हैं, वही अब देश में महामारी को आगे बढ़ा रहे हैं। टाइम्स ऑफ़ इंडिया के रिपोर्ट के अनुसार भार्गव ने यह भी कहा कि आईसीएमआर ने दूसरा राष्ट्रीय सीरो सर्वे शुरू किया है जो सितंबर के पहले सप्ताह तक पूरा किया जाएगा. बता दें कि भारत में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 31 लाख के पार पहुंच गया है.

हिंदुस्तान टाइम्स  के अनुसार डॉ भार्गव ने कहा, “मैं यहां युवा या बूंढो का नाम नहीं लूंगा, लेकिन मास्क नहीं पहनने वाले गैरजिम्मेदार लोग ही देश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार को बढ़ा रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि महामारी को रोकने के लिए बचाव के नियमों का पालन करना आवश्यक है। उसके बिना इस पर नियंत्रण नहीं पाया जा सकता है। बता दें कि पिछले एक सप्ताह में दुनिया के करीब 26 प्रतिशत नए मामले भारत में ही आए हैं।

डॉ भार्गव ने कोरोना वैक्सीन की जानकारी देते हुए कहा कि वर्तमान में भारत में तीन कोरोना वैक्सीन दौड़ में चल रही है। इसमें से सीरम इंस्टीट्यूट की कोवीशील्ड वैक्सीन सबसे आगे है। यह वैक्सीन क्लिनिकल ट्रायल के फेज 2(B) और तीसरे चरण में है।

इसी तरह भारत बायोटेक और जायडस कैडिला की वैक्सीनों ने भी अपना पहला क्लिनिकल ट्रायल पूरा कर लिया है और उन्होंने दूसरे ट्रायल की तैयारी जोर-शोर से शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि पिछले राष्ट्रीय सीरो सर्वे की पूरी रिपोर्ट की दो बार समीक्षा की गयी है और इस सप्ताह के अंत में इसे इंडियन जर्नल ऑफ मेडिकल रिसर्च में प्रकाशित किया जा सकता है.

सीरम इंस्टीट्यूट ने वैक्सीन की उपलब्धता को लेकर रविवार को सफाई दी थी। उन्होंने कहा था कि वर्तमान में सरकार ने उन्हें केवल वैक्सीन का निर्माण करने और भविष्य में इसका उपयोग करने के लिए भंडार करने की अनुमति दी है।

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...