ख़बरें

रायगढ़ हादसे में अपनों को खो चुके बच्चों की देखभाल की ज़िम्मेदारी महाराष्ट्र के पीडब्ल्यूडी मंत्री एकनाथ शिंदे ने ली

तर्कसंगत

Image Credits: NDTV

August 28, 2020

SHARES

महाराष्ट्र के पीडब्ल्यूडी मंत्री एकनाथ शिंदे ने बुधवार को कहा कि वह दो चार साल के बच्चों की देखभाल करेंगे, जिन्होंने महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में इमारत ढहने में अपने परिवार के सदस्यों को खो दिया।

 

 

हादसे में बचाये गए दो बच्चे में से एक की पहचान मोहम्मद बंगी के रूप में हुई है. उसे पांच मंजिला इमारत ढहने के 18 घंटे बाद मलबे में से NDRF की टीम ने सुरक्षित बाहर निकाला था। इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना में उसने अपनी माँ और भाई-बहनों को खो दिया। उसे अभी तक यह नहीं बताया गया है कि उसकी मां नौशीन (32) और बहनें आयशा (6) और रुकैया (2) का निधन हो चुका है।

 

 

शिंदे ने कहा कि उनके परिवार द्वारा संचालित एक फाउंडेशन दोनों लड़कों की पूरी शिक्षा का ध्यान रखा जायेगा।

महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले के महाड के एक आवासीय क्षेत्र में पांच मंजिला इमारत 24 अगस्त को शाम 6:50 बजे के तकरीबन ढह गई। ग्राउंड-प्लस-चार मंजिल की संरचना में लगभग 40 परिवार रह रहे थे। इस घटना में 16 लोगों की जान चली गई और 78 से अधिक लोग घायल हो गए। महाराष्ट्र के मंत्री विजय वडेट्टीवार ने पहले मृतकों के परिवारों के लिए 5 लाख की अनुग्रह राशि की घोषणा की, साथ ही घायलों को 50,000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है।

अधिकारियों के अनुसार, इमारत महज 10 साल पुरानी थी, इसलिए इस बात की संभावना बेहद कम रह जाती है कि वह पुरानी होने की वजह से गिरी। ऐसे में उसके गिरने का कारण जानने के लिए उसकी निर्माण सामग्री की जांच की जा रही है। आशंका व्यक्त की जा रही है कि इमारत के निर्माण में घटिया गुणवत्ता की सामग्री का इस्तेमाल किया गया था या इसके नक्शे में कोई कमी थी

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...