ख़बरें

जम्मू में भारत पाकिस्तान सिमा के पास बीएसएफ को मिले पाकिस्तानी सुरंग

तर्कसंगत

Image Credits: India Today

August 30, 2020

SHARES

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने जम्मू में भारत-पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय सीमा (आईबी) के नीचे एक सुरंग का पता लगाया है। इस बात की पुष्टि सुरक्षा बल के अधिकारियों ने शनिवार को की है। सुरक्षा बलों की तरफ से क्षेत्र में एक विशेष अभियान की शुरूआत की गई है, जिसके जरिए छिपे सुरंगों और इस तरह के संरचनाओं का पता लगाया जा रहा है। अधिकारियों के मुताबिक इसके जरिए आतंकवादियों की घुसपैठ और नशीले पदार्थों-हथियारों की तस्करी के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार अधिकारी ने कहा कि बीएसएफ महानिदेशक राकेश अस्थाना ने अपने सीमावर्ती कमांडरों को ये सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि घुसपैठ रोधी ग्रिड बरकरार रखें है और इस मोर्चे पर लगातार नजर बनाए रखें, कोई खामियां न रहे।

न्यूज 18 के अनुसार BSF के महानिदेशक राकेश अस्थाना ने बताया गश्ती दल की सूचना के बाद अन्य अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर सुरंग की जांच की। उस दौरान सुरंग का मुहं मिट्टी के भरे 8-10 कट्टों से ढका हुआ था। कट्टों पर कराची और शकरगढ़ लिखा है। उन पर निर्माण और अवधि पार की तारीख भी मिली है। इससे साफ है कि सुरंग पाकिस्तान द्वारा ही बनाई गई है।

उन्होंने बताया कि सुरंग की गहराई करीब 25 फीट है।

महानिदेशक अस्थाना ने बताया कि आमतौर पर इस तरह की सुरंगों का उपयोग सीमा पार से घुसपैठ और नशीले पदार्थों के साथ हथियारों की तस्करी के लिए किया जाता है। इस सुरंग से निकटतम पाकिस्तानी चौकी की दूरी महज 400 मीटर है।

उन्होंने बताया कि इस सुरंग के मिलने के बाद अब जम्मू-कश्मीर में स्थित अंतरराष्ट्रीय सीमा पर अन्य सुरंगों का पता लगाने के लिए BSF की ओर से सघन सर्च अभियान चलाया जा रहा है।

महानिदेशक अस्थाना ने बताया कि जम्मू-कश्मीर, पंजाब, राजस्थान और गुजरात से सटी पाकिस्तान की 3,300 किलोमीटर लंबी अंतरराष्ट्रीय सीमा की सुरक्षा के लिए BSF की तैनाती की गई है। इन सीमाओं से आतंकवादियों के घुसपैठ करने तथा हथियार और नशीले पदार्थों की तस्कीर किए जाने की सूचना मिलती रहती है।

ऐसे में अब सेना सुरंगों का पता लगाने के लिए भूमिगत रडार सिस्टम तैयार करने पर विचार कर रही है।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...