ख़बरें

आज से शुरू हो रहे हैं जेईई की परीक्षा, शिक्षा मंत्री ने विद्यार्थियों को दी शुभकामनाएं

तर्कसंगत

Image Credits: DNA India

September 1, 2020

SHARES

इंजीनियरिंग के लिए दाखिला परीक्षा जेईई मेन मंगलवार यानी आज से शुरू हो रही है। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (नीट) और अन्य इंजीनियरिंग कॉलेजों के लिए आज से संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) मेन आयोजित करने के लिए तैयार है।

बता दें कि जेईई मुख्‍य परीक्षा का आयोजन देश के इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए आयोजित की जाती है। वहीं, मेडिकल कॉलेजों में दाखिले के लिये आयोजित होने वाली योग्‍यता परीक्षा NEET 2020 का आयोजन 13 सितंबर से होगा।

एक वीडियो संदेश में, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सोमवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से परीक्षा के सुचारू संचालन में सहयोग करने की अपील की और प्रवेश परीक्षा के लिए उपस्थित होने वाले सभी उम्मीदवारों को परिवहन सुविधा भी प्रदान करने की बात कही। उन्होंने कहा कि “मुझे उम्मीद है कि सभी सहयोग करेंगे।

 

 

पोखरियाल ने कहा कि जेईई मेन का संचालन छात्रों के भविष्य को ध्यान में रखकर किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लगभग सभी छात्रों (जिन्होंने परीक्षा के लिए पंजीकरण किया था) ने अपने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिए हैं। वे सभी अपनी परीक्षा देने के लिए उत्साहित हैं।

एक अलग वीडियो संदेश में शिक्षा मंत्री ने छात्रों से केंद्र सरकार द्वारा जारी कोविड-19 सुरक्षा दिशानिर्देशों का पालन करने की भी अपील की। उन्होंने कहा, “मैंने कई मुख्यमंत्रियों से व्यक्तिगत रूप से बात की है और परीक्षाओं के संचालन के संबंध में सभी मुख्यमंत्रियों से अपील की है। उन्होंने सहयोग और समर्थन का आश्वासन दिया है। अपनी परीक्षा को आत्मविश्वास से दें “। उन्होंने कहा,”किसी भी कठिनाई के मामले में, आप किसी भी समय मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर पर डायल कर सकते हैं।”

 

 

सरकार 1 सितंबर से 6 सितंबर तक विभिन्न शिफ्टों में जेईई-मुख्य परीक्षा आयोजित करने के अपने निर्णय के साथ आगे बढ़ी है। मेडिकल की अंडर ग्रैजुएशन पढ़ाई के लिए होने वाले नैशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) और इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए होने वाले जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम (जेईई) को लेकर मुख्य विपक्षी कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों ने केंद्र के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है। सुप्रीम कोर्ट से इन परीक्षाओं को कराने की हरी झंडी मिल चुकी है लेकिन 6 राज्यों ने फिर शीर्ष अदालत का रुख किया है और परीक्षा की इजाजत देने के अपने फैसले पर पुनर्विचार की अपील की है।

एनटीए के सूत्रों के अनुसार, परीक्षा देने के लिए 7.77 लाख से अधिक छात्रों ने अपने एडमिट कार्ड डाउनलोड किए हैं। प्रवेश परीक्षा के लिए कुल 8.58 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया था।

बता दें कि विपक्षी दलों द्वारा समर्थित छात्रों के विभिन्न समूह देश में कोविड-19 स्थिति को देखते हुए जेईई-मेन को स्थगित करने की मांग कर रहे थे।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...