ख़बरें

एंबुलेंस को रास्ता देने के लिए मुख्यमंत्री ने धीमा करवाया अपना काफिला

तर्कसंगत

September 3, 2020

SHARES

राजनीतिक पार्टी के बड़े नेताओं के साथ ही मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री का काफिला जब सड़क से गुजरता है तो लोगों की गाड़ियों को कुछ समय रोककर इनके काफिले को जाने दिया जाता है. जिसकी वजह इन नेताओं की लोग आलोचना करते हैं. लेकिन कभी- कभी ये नेता ऐसा कुछ काम करते है. जिनका हर कोई तारीफ करता है. बुधवार को कुछ इसी तरह आंध्र प्रदेश में देखने को मिला. आंध्र प्रदेश के सीएम जगन मोहन रेड्डी का काफिला सड़क से गुजर रहा था. इस बीच उनके पीछे से एंबुलेंस आने की उन्हें सूचना मिली. जिसके बाद उन्होंने अपने काफिले को स्लो करवाकर एंबुलेंस को रास्ता दिया. उन्हें इस काम को लेकर लोगों की तरफ से तारीफ की जा रही हैं.

 

 

जिस एंबुलेंस को उन्होंने रास्ता दिया. बताया जा रहा है कि उस एंबुलेंस में गुडावल्ली के रहने वाले चपरथिना शकर थे जो सड़क दुर्घटना के शिकार हो गए थे. बाइक पर उयुरू से गन्नवरम जाते समय सड़क दुर्घटना के बाद शकर गंभीर रूप से घायल थे. एनएचएआई की एक एम्बुलेंस उन्हें विजयवाड़ा के ईएसआई अस्पताल ले जा रही थी. लेकिन एंबुलेंस के आगे सीएम का काफिले होने से गाड़ी आगे निकलने के लिए दिक्कत हो रही थी. घायल मरीज को लेकर  एंबुलेंस आगे तब निकली जब सीएम जगन मोहन रेड्डी ने एम्बुलेंस को जाने के लिए पास दिया.

दरअसल वाईएस जगन मोहन रेड्डी बुधवार को विजयवाड़ा हवाईअड्डे से अमरावती के ताडेपल्ले अपने घर लौट रहे थे. वीवीआईपी मूवमेंट के कारण एंबुलेंस को रास्ता नहीं मिल रहा था. जैसे ही इस बात की जानकारी जगन मोहन रेड्डी को हुई उन्होंने फौरन काफिला को स्लो करने का निर्देश दिया. जिसके बाद एंबुलेंस मरीज को लेकर आगे के लिए निकली.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...