ख़बरें

कुशीनगर में पहले शिक्षक की हत्या फिर लोगों ने घेर कर हत्यारे को पुलिस के सामने पीट कर मार डाला

तर्कसंगत

Image Credits: NDTV

September 8, 2020

SHARES

लोगों में कानून को डर किस हद तक समाप्त हो चुका है, सोमवार को इसका एक शर्मनाक नमूना उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में देखने को मिला। कुशीनगर में घर पर सो रहे शिक्षक की सोमवार सुबह गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। इस घटना से पूरे इलाके में तनाव फैल गया है। शिक्षक की हत्‍या के बाद बदमाश उनके घर की छत पर चढ़कर हवाई फायरिंग कर दहशत फैलाने की कोशिश करने लगा। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी लेकिन करीब डेढ़ घंटे बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची तब तक भीड़ अपना सब्र खो चुकी थी।

यहां भीड़ ने हत्या के आरोपी एक शख्स की पुलिस के सामने पीट-पीट कर हत्या कर दी और इस दौरान लाचार पुलिस कुछ नहीं कर पाई। भीड़ ने आरोपी की मौत के बाद भी उस पर हमले किए।

पहले शिक्षक की हत्या

दैनिक जागरण’ की रिपोर्ट के अनुसार, यहां सुधीर सिंह नामक एक शिक्षक आज सुबह 8 बजे अपने घर के सामने बैठकर मोबाइल पर बातें कर रहे थे, तभी स्कूटी पर सवार होकर आए एक शख्स ने उनसे गांव के ही किसी शख्स का पता पूछा।

पता पूछने के बाद स्कूटी सवार ने अचानक से सुधीर को गोली मार कर उनकी हत्या कर दी।

भीड़ ने  घेर कर मारा

फायरिंग की आवाज सुनकर जब आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और भाग रहे आरोपी का पीछा करने लगे। कुछ दूर जाकर आरोपी की स्कूटी फिसल गई, जिसके बाद लोगों ने उसे घेर लिया। लोगों ने फोन कर पुलिस को भी मौके पर बुला लिया।

इस बीच खुद को भीड़ से घिरा देख आरोपी ने हवाई फायरिंग करने लगा। फायरिंग से गुस्साई भीड़ ने उसे दबोच लिया और ईंट-पत्थर और डंडों के साथ उसकी पीट-पीट कर हत्या कर दी।

इस दौरान किसी ने अपने फोन पर पूरी घटना की वीडियो रिकॉर्ड कर लिया और अब ये सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो में पुलिसकर्मियों को भीड़ को रोकते हुए देखा जा सकता है और भीड़ आरोपी के बेहोश होने पर भी उस पर लगातार हमला कर रही है।

आरोपों पर सफाई देते हुए पुलिस अधिकारियों ने कहा है कि थानाध्यक्ष की अगुवाई में पुलिस ने हत्यारोपी शख्स को मौके से निकालने की कोशिश की थी, लेकिन ग्रामीण के गुस्से के कारण ऐसा संभव नहीं हो पाया और कई बार संघर्ष की स्थिति आ गई। स्थिति अभी भी तनावपूर्ण बनी हुई है।

NDTV‘ की रिपोर्ट के अनुसार, मृत शख्स गोरखपुर का रहने वाला था और उसने अपने पिता की बंदूक से शिक्षक की हत्या की थी।

थानेदार सस्पेंड

यह वीडियो सामने आने के बाद एसपी विनोद कुमार मिश्र ने एसओ तरया सुजान इंसपेक्टर हरेन्द्र मिश्र को सस्पेंड कर दिया है। एसपी ने कहा कि घटना की छानबीन करते समय एक नया वीडियो प्रकाश में आया। जिसमें यह स्पष्ट हो रहा है कि प्रभारी निरीक्षक तरया सुजान पुलिस बल के  साथ अभियुक्त को अभिरक्षा में लेने के बावजूद उसकी सुरक्षा नहीं कर सके। इसके लिए उन्हें उत्तरदायी मानते हुए तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है। अन्य पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी नियमानुसार कार्यवाही की जा रही है।

घटना सामने आने के बाद विपक्षी नेताओं ने राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार पर कानून व्यवस्था की बिगड़ती हालत के लिए निशाना साधा है।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...