ख़बरें

उत्तर प्रदेश: बेटी बेचने के अफवाह पर पिता की दबंगों द्वारा पिटाई से मौत, वीडियो वायरल

तर्कसंगत

September 9, 2020

SHARES

उत्तर प्रदेश के मैनपुरी  जिले में एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है. कहा जा रहा है कि अफवाह को लेकर पांच लोगों ने रविवार रात एक शख्स की बुरी तरह से पिटाई की. अस्पताल में भर्ती पीड़ित शख्स की मौत हो गई है.

आरोप है कि बेटी बेचने की अफवाह फैलने के बाद आरोपियों ने पीड़ित पर हमला किया था। पिटाई में वह गंभीर रूप से घायल हो गया और अस्पताल जाकर उसने दम तोड़ दिया। राज्य में पिछले दो दिन में ये इस तरह का दूसरा मामला है और इससे पहले कुशीनगर में भी एक शख्स की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी।

न्यू इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक मृतक दिवाकर ठेले पर कचौड़ी बेचने का काम करते थे और मैनपुरी में अपनी बेटी के साथ किराये के घर में रहते थे। उनकी 16 वर्षीय बेटी घरेलू सहायिका के रूप में काम करती थी और इलाके के एक स्कूल में पढ़ती भी थी। कुछ दिन पहले ही दिवाकर ने अपनी बेटी को रिश्तेदारों के यहां रहने के लिए भेज दिया था क्योंकि कहा जा रहा है कि कोरोना महामारी की वजह से उसकी नौकरी चली गई थी।

बेटी बेचने की अफवाह

इसके बाद इलाके में अफवाह फैलना शुरू हो गई कि सर्वेश ने अपनी बेटी को बेच दिया है। 6 सितंबर की शाम मोहल्ले के कुछ दबंग लोग शराब पीकर उसके घर आ गए और अफवाह के आधार पर सर्वेश की पिटाई करना शुरू कर दिया।

दबंगों ने उसे छत पर ले जाकर निर्वस्त्र कर पीटा और उसके रहम की भीख मांगने पर भी नहीं रुके। आरोपी पीड़ित के बेहोश होकर गिरने के बाद भी उसे लगातार पीटते रहे।

लोगों ने रिकॉर्ड कर लिया वीडियो

इस बीच पास की ही एक छत से किसी ने पूरी घटना का वीडियो रिकॉर्ड कर लिया और अब ये सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो में चार-पांच आरोपियों को पीड़ित को पीटते हुए देखा जा सकता है और वे उसके बेहोश होकर गिरने के बाद भी नहीं रुक रहे हैं।

घटना के वीडियो में देखा जा सकता है कि पांच लोग दिवाकर के घर की छत पर उन्हें लात-घूंसों से पीट रहे हैं और वह उनसे दया की गुजारिश कर रहे हैं। आरोपी तब भी उन्हें मारना बंद नहीं करते हैं जब वह जमीन पर गिर जाते हैं।

समाजवादी पार्टी ने अपने ट्वीट में लिखा- मैनपुरी का यह वीडियो सामने आया है जहां बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा कचौड़ी का ठेला लगाने वाले दलित युवक सर्वेश दिवाकर की लिंचिंग कर हत्या कर दी गई. दोषी बजरंग दल के कार्यकर्ताओं पर कड़ी कार्रवाई करे सरकार.

पुलिस ने की गिरफ़्तारी

मैनपुरी के पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने मामले पर बयान जारी करते हुए कहा है कि घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची थी और सर्वेश को जिला अस्पताल ले जाया गया था।

वीडियो का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इसमें पांच लोगों को सर्वेश की पिटाई करते हुए देखा जा सकता है और इनमें से चार लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। हमें अभी तक आरोपियों के किसी भी संगठन से जुड़े होने की जानकारी नहीं हुई है।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...