ख़बरें

कमलनाथ ने भाजपा की दलित महिला नेता इमरती देवी को कहा ‘आइटम’, भाजपा के नेता मौन उपवास पर बैठे

तर्कसंगत

October 19, 2020

SHARES

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा अनुसूचित जाति वर्ग की महिला एवं पूर्व मंत्री इमरतीदेवी के खिलाफ अपमानजनक बयान के विरोध में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अन्य नेता मौन उपवास पर बैठ गए।

श्री चौहान ने यहां मिंटो हाल परिसर में दो घंटे का मौन उपवास करेंगे। मिंटो हाल परिसर में उपवास में शामिल होने के लिए सुबह लगभग दस बजे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राज्य सरकार के अनेक मंत्री और पदाधिकारी पहुंच चुके हैं। इस अवसर पर अनेक महिला पदाधिकारी भी मौजूद हैं। भाजपा के अन्य वरिष्ठ नेता भी राज्य में अन्य स्थानों पर मौन उपवास कर रहे हैं।

 

 

श्री चौहान ने कहा कि श्री कमलनाथ अपनी आपत्तिजनक टिप्पणी के बावजूद उसे जायज ठहराने का प्रयास कर रहे हैं। यह उचित नहीं है। हमारी संस्कृति नारियों के प्रति सम्मान और पूजने की है। लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री प्रायश्चित का भाव नहीं ला रहे हैं, इसलिए प्रायश्चित के स्वरूप उन्होंने दो घंटे का मौन उपवास प्रारंभ किया।

श्री कमलनाथ ने कल ग्वालियर जिले के डबरा में आयोजित चुनावी सभा में डबरा से भाजपा प्रत्याशी श्रीमती इमरती देवी को आइटम कहा है। इसके बाद से ही भाजपा काफी हमलावर हो गयी है। वहीं श्री कमलनाथ ने कल देर रात अपनी सफाई में दावा करते हुए कहा कि आइटम कोई असम्मानजनक शब्द नहीं है।

वहीं श्रीमती इमरतीदेवी का भी मीडिया से चर्चा का एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें श्रीमती इमरतीदेवी श्री कमलनाथ को लेकर काफी भला बुरा कहते हुए सुनी जा रही हैं। उन्होंने कहा कि श्री कमलनाथ पश्चिम बंगाल के हैं और वे महिलाओं के प्रति अक्सर सम्मानजनक भाव नहीं रखते हैं। इस वीडियो में श्रीमती इमरतीदेवी की आंखों में आंसू भी दिखायी दे रहे हैं।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...