ख़बरें

वीडियो देखिये, दीपिका सिंह राजावत ने सोशल मीडिया पर ऐसा क्या पोस्ट कर दिया कि रात में भीड़ घर के आगे नारे लगाने लगी

तर्कसंगत

Image Credits: janbharattimes

October 21, 2020

SHARES

जम्मू-कश्मीर में मंगलवार, 20 अक्टूबर की रात को अधिवक्ता दीपिका सिंह राजावत के घर के बाहर बड़ी संख्या में लोग जमा हुए और अपने ट्विटर पर उनके एक विवादास्पद कार्टून पोस्ट करने के कारण नारे लगाए। अधिवक्ता ने अपने आवास के बाहर “दीपिका तेरी कब्र खुदेगी” के नारे लगाने वाली भीड़ के वीडियो को साझा करने के लिए ट्विटर का सहारा लिया।

वकील ने ट्वीट किया, “अलर्ट मोब मेरे आवास के बाहर इकट्ठे हुए और मेरे खिलाफ नारे लगा रहे हैं सुरक्षित महसूस नहीं किया। इससे मुझे नुकसान हो सकता है।”

 

दीपिका राजावत जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट में वकील हैं और वॉयस ऑफ राइट्स नाम की एनजीओ चलाती हैं. वो पहली बार चर्चा में तब आईं, जब उन्होंने कठुआ रेप केस में पीड़िता की तरफ से पैरवी की थी. इसके बाद वो कई सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों को लगातार सोशल मीडिया के माध्यम से उठाती रहती हैं. मोदी सरकार सहित जम्मू-कश्मीर और दूसरे भाजपा शासित राज्यों की सरकारों को लेकर भी ट्विटर पर लिखती रहती हैं. हालांकि दीपिका पीड़िता की वकील थीं, लेकिन परिवार ने बाद में उन्हों केस से हटा दिया था. पीड़िता के परिवार का आरोप था कि दीपिका इस मामले से सिर्फ पब्लिसिटी ले रही हैं, जबकि उनकी केस में कोई रूचि नहीं हैं और आदालत में भी नहीं आती हैं.

दीपिका सिंह राजावत नाम की एक महिला वकील ने ट्विटर पर एक ऐसा फोटो डाला कि उसे लेकर उनकी गिरफ्तारी की मांग शुरू हो गई है. आखिर फोटो में ऐसा क्या है कि लोग इतना ज्यादा भड़के हुए हैं कि उनकी गिरफ्तारी की मांग तेज़ हो गई है? लोग दीपिका सिंह राजावत के खिलाफ ट्वीट करने लगे और ट्विटर पर #Arrest_Deepika_Rajawat करने लगा. ट्विटर पर गिरफ्तारी की मांग करने वालों में बीजेपी नेता भी शामिल हैं.

 

 

दरअसल दीपिका राजावत ने सोमवार रात ट्विटर पर एक पोस्ट शेयर किया है. जिसमें उन्होंने यह दिखाने की कोशिश की गई है कि जो बाकी दिनों में महिला के साथ अत्याचार करते हैं, वही नवरात्र के दौरान महिला का पूजन शुरू कर देते हैं. इसे लेकर ट्विटर पर काफी बवाल शुरू हो गया. वहीं एक अन्य ट्वीट में दीपिका ने लिखा है कि “मेरी धार्मिक भावनाएं कोई कांच नहीं हैं कि पल भर में टूट जाएंगें. मैं मेरा धर्म और कर्म बेखूबी जानती हूं.”

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...