ख़बरें

वीडियो देखें, बल्लभगढ़ छात्रा हत्याकांड का दूसरा आरोपी गिरफ्तार

तर्कसंगत

October 28, 2020

SHARES

पुलिस ने बल्लभगढ़ (Ballabhgadh) इलाके में गोली मारकर छात्रा (Girl Student) की हत्या (Murder) करने के मामले में मुख्य आरोपी समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.
आरोपी की पहचान तौसीफ पुत्र जाकिर निवासी कबीर नगर, सोहना, गुरुग्राम के रूप में हुई है. दूसरे आरोपी रेहान निवासी रीवासन जिला मेवात को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

 

मामला क्या है?

बता दें कि मामला बल्लभगढ़ क्षेत्र का है. पुलिस जानकारी के मुताबिक 26 अक्टूबर 2020 को मृतक लड़की के भाई नवीन ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि शाम 4:00 बजे के आसपास 20 वर्षीय उसकी बहन अग्रवाल कॉलेज से परीक्षा देकर निकली थी. तौसीफ ने पिस्तौल की नोक पर अपहरण करने और कार में बिठाने का प्रयास किया। लेकिन निकिता के विरोध करने पर आरोपी जब अपने मंसूबों को अंज़ाम देने में विफल रहा तो उसने छात्रा को गोली मार दी जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. इस दौरान आरोपी का दूसरा साथी कार में बैठा हुआ था. टाइम्स ऑफ़ इंडिया के मुताबिक निकिता को उसकी सहयोगी ने बचाने का प्रयास किया लेकिन वह इसमें नाकाम रही. आरोपी वारदात के बाद फरार हो गए. यह पूरी घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. परिजनों ने आरोपियों के खिलाफ थाना शहर बल्लभगढ़ में हत्या का मामला दर्ज किया.

 

 

 

5 घंटे में दबोचा

पुलिस के मुताबिक, मंगलवार को क्राइम ब्रांच की टीम ने फरीदाबाद से पलवल एवं मेवात तक 5 घंटे आरोपी की तलाश में सर्च ऑपरेशन चलाया. जिसके बाद आरोपी को धर दबोचा गया.

पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने बताया कि आरोपी फरीदाबाद से वारदात को अंजाम देकर पलवल होते हुए मेवात नूहं चला गया था.

उन्होंने बताया कि आरोपी वर्ष 2018 में भी लड़की को अपने साथ ले गया था जिसके खिलाफ थाना सिटी बल्लभगढ़ में मामला दर्ज किया गया था. गिरफ्तार आरोपी तौसीफ की उम्र 21 वर्ष है, आरोपी फिजियोथैरेपिस्ट का कोर्स कर रहा है जोकि थर्ड ईयर में है. दूसरे आरोपी की पहचान रेहान निवासी रेवासन मेवात निवासी के रूप में हुई है जो कि आरोपी तौसीफ का दोस्त है.

उन्होंने बताया कि इस मामले में एसआईटी टीम भी गठित की गई है.पुलिस ने आरोपी को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया है. पुलिस का कहना है कि वह पीड़ित परिवार के साथ है और आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी.

 

ballabhgadh girl student murder

 

धर्म परिवर्तन करवाने में नाकाम रहने पर की हत्या

छात्रा के एक रिश्तेदार हाकिम सिंह ने मीडिया को बताया , ‘वह लड़की पर बार-बार मुस्लिम बनने के लिए दबाव डाल रहा था. तीन साल पहले भी उसने वारदात की थी लेकिन तब हमने पंच फैसले से मामला निपटा लिया था. अब लड़के ने फिर लड़की को फोन किया कि मुसलमान बन जा हम शादी कर लेंगे. लड़की ने इनकार कर दिया तो अपहरण की कोशिश की गई. अपहरण में नाकाम रहने पर गोली मारकर हत्या कर दी. प्रशासन से हमारी मांग है कि एसआईटी गठित कर मामले की जांच कराई जाए और फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले की सुनवाई कराई जाए.’

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...