मध्य प्रदेश एवं कर्णाटक सरकार ने किया लव जिहाद पे कड़ा कानून बनाने के फैसला love jihad

ख़बरें

मध्य प्रदेश एवं कर्णाटक सरकार ने किया लव जिहाद पे कड़ा कानून बनाने के फैसला

तर्कसंगत

November 4, 2020

SHARES

इस समय पूरी दुनिया केवल coronavirus नामक महामारी का ही नहीं, बल्कि धर्म के नाम पर आतंकवाद के एक नए रूप का सामना कर रही है. ये आतंकवाद का ऐसा विषैला रूप है जो केवल बमो और गोलियों से ही नहीं, बल्कि प्यार के नाम पर छल कपट कर बिछाया जाता है. लव जिहाद (love jihad) एक ऐसा वायरस है जो कि मासूम गैर मुसलमान लड़कियों को अपने चपेट में ले रहा है. ZEE Hindustan के एक रिपोर्ट के अनुसार भाजपा विधायक संगीत सोम ने लव जिहाद (love jihad) नामक ‘आतंकवाद’ पर चर्चा की. विधायक ने एक कार्यक्रम में कहा कि एक मिशन के तहत हिन्दू समाज के सम्मान के साथ खिलवाड़ हो रहा है. आतंकवादी सोच के तहत पूरे देश में इसी तर्ज पर घटनाएं हो रही हैं. ये इस्लामिक कट्टरपंथी गैर मुस्लिमों को इंसान नहीं मानते और इनके भीतर इतना जहर भरा होता है की ये मजहबी आतंकवाद करने के लिए किसी भी सीमा तक जा सकते हैं.

 

क्या है लव जिहाद?

लव जिहाद को इस्लामिक कट्टरपंथी का एक ऐसा प्रतिरूप माना गया है जिसमे प्यार के नाम पर मुस्लिम लड़के गैर मुसलमान लड़कियों को छलावा देकर उनसे शादी कर उनका धर्म परिवर्तन करवा देते हैं. लव जिहाद नामक शब्दावली का इस्तेमाल आमतौर पर हिन्दू संगठनों द्वारा किया जाता है जिसमे उन्होंने गैर मुसलमान औरतों को जबरदस्ती या धोके से एक मुसलमान से शादी करने के पश्चात् उनके धर्म परिवर्तन का आरोप लगाया है. अंतर धार्मिक शादियों में लड़कियों का जबरन या धोखे से एक मुस्लमान से शादी करने पर धर्म परिवर्तन कर दिया जाता है.

इंडियन एक्सप्रेस के एक रिपोर्ट के अनुसार उत्तर प्रदेश सीएम योगी आदित्यनाथ अलाहाबाद हाई कोर्ट के फैसले का समर्थन करते हुए ये दावा किया कि उत्तर प्रदेश सरकार लव जिहाद पर प्रतिबन्ध लगाने के लिए कड़ा कानून लाने का प्रयास कर रही है. जौनपुर में एक रैली को सम्बोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा, “अलाहाबाद हाई कोर्ट ने ये कहा है कि शादी के नाम पर धर्म परिवर्तन की कोई ज़रुरत नहीं। हमारी सरकार भी ‘लव जिहाद’ को रोकने के लिए काम करेगी, हम इसके लिए कानून बनाएंगे.”

“लव जिहाद” पर चेतावनी देते हुए आदित्यनाथ ने कहा, “मैं उन लोगों को कड़ी चेतावनी देता हूँ जो अपनी पहचान छुपाकर हमारी बहनों की इज़्ज़त के साथ खिलवाड़ करते हैं. अगर इन लोगों ने अपनी हरकतों को नहीं सुधारा, तो इनकी राम नाम सत्य दौरे की शुरुआत हो जाएगी.”

उत्तर प्रदेश और हरयाणा सरकार से उदहारण लेते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने भी क़ानूनी प्रक्रियायों का सहारा लेते हुए लव जिहाद के घटनाओं पर रोक लगाने का आश्वासन दिया है. इसी के साथ मध्य प्रदेश देश का तीसरा बीजेपी शासित प्रदेश बन गया है जिसने लव जिहाद के खिलाफ कानून बनाने का फैसला किया है. मध्य प्रदेश सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा, “प्यार के नाम पर अब कोई जिहाद नहीं होगा। जिसने भी ऐसा करने के कोशिश की, उसपे कड़े कदम लिए जायेंगे, जिसके लिए क़ानूनी नियम बनाये जायेंगे.” 

 

 

कर्णाटक में भी इस अपराध को रोकने की लहर दिख रही है. कर्णाटक लव जिहाद के खिलाफ कड़ा रुख अपनाते दिख रहा है जिसके अधीन हिन्दू औरतों को जबरन धर्म परिवर्तन में धकेलने से रोका जा सके. कर्णाटक गृह राज्य मंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा है कि लव जिहाद के खिलाफ कानून लागु करने से पहले वो उत्तर प्रदेश एवं हरियाणा सरकार के कानूनों का आंकलन करेंगे। उन्होंने कहा कि दक्षिण कन्नड़ और उडुपी में धर्म परिवर्तन के बढ़ते घटनाओं को देखते हुए सरकार काफी सचेत है. कर्णाटक सरकार लव जिहाद को रोकने के लिए नए नियमों की तलाश में है.

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...