आंध्र प्रदेश में स्कूल खुलते ही तीन दिन में कई छात्र और शिक्षक कोरोना से संक्रमित andhra pradesh school coronavirus

ख़बरें

आंध्र प्रदेश में स्कूल खुलते ही तीन दिन में कई छात्र और शिक्षक कोरोना से संक्रमित

तर्कसंगत

Image Credits: Deccan Chronicle

November 6, 2020

SHARES

आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में बड़ी कक्षाओं के स्कूल(School) खुलने का राज्य सरकार का फैसला उल्टा पड़ता दिख रहा है। आंध्र की जगन मोहन रेड्डी सरकार ने 9वीं और 10वीं कक्षा के लिए स्कूल दो नवंबर को खोले थे। उसके महज तीन दिन में ही 422 छात्र और शिक्षक कोरोना (Corona Virus) से संक्रमित पाए गए हैं। इनमें 262 छात्र और 160 शिक्षक शामिल हैं।

इंडिया टुडे के अनुसार गत 2 नवंबर को स्कूल खुलने के पहले दिन मार्लपाडु मंडल के नंदावरम और नेल्लोर जिले के पत्थलवन्ती में संक्रमण के पांच मामले सामने आए थे। इसी तरह प्रकाशम जिले के गोल्लापल्ली स्कूल के प्रधानाध्यापक के भी संक्रमण की पुष्टि हो गई। बुधवार तक चित्तूर जिले में 160  शिक्षकों और नौ छात्रों के संक्रमण की पुष्टि हुई।

इससे शिक्षा विभाग के अधिकारी सकते में आ गए और प्रभावित स्कूलों को बंद कर दिया।

चिंता की बात नहीं

स्कूल शिक्षा आयुक्त वी चिन्ना वीरभद्रुदू ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि स्कूल आने वाले छात्रों की संख्या की तुलना में संक्रमित छात्रों का आंकड़ा चिंता की बात नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक संस्थान में कोविड-19 सुरक्षा मानकों का पालन सुनिश्चित करने के लिए हरसंभव कदम उठाए जा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि चार नवंबर को करीब चार लाख छात्र स्कूल पहुंचे। संक्रमित छात्रों की संख्या 262 है, जो चार लाख छात्रों का 0.1 प्रतिशत भी नहीं है। यह कहना सही नहीं है कि स्कूल जाने की वजह से छात्र संक्रमित हुए। हमने सुनिश्चित किया है कि प्रत्येक कक्षा में केवल 15 या 16 छात्र ही उपस्थित रहें। यह चिंता की बात नहीं है।

स्कूल बंद के आदेश

चित्तूर के स्कूलों में शिक्षक और छात्रों के संक्रमण की पुष्टि होने के बाद सरकार ने जिले की निजी और सरकारी स्कूलों में कार्यरत सभी 20,000 शिक्षकों की आगामी 8 नवंबर तक कोरोना जांच के आदेश जारी कर दिए।

आदेश में कहा गया है कि निगेटिव रिपोर्ट वाले शिक्षकों को ही स्कूल आने की अनुमति दी जाएगी। इसके अलावा संक्रमित शिक्षकों को 14 दिन के लिए आवश्यक रूप से होम या संस्थागत क्वारंटाइन होना पड़ेगा।

राज्य के कुरनूल जिले में अक्टूबर में निजी और सरकार स्कूलों को परामर्श कक्षाओं के लिए फिर से खोला गया था।

गत 21 अक्टूबर को संदिग्ध विद्यार्थियों की जांच करने पर चार निजी स्कूलों में कक्षा नवीं और दसवीं के 27 छात्रों के कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो गई। उसके बाद जिला कलक्टर ने सभी चारों स्कूलों को सैनिटाइजेशन कार्य के लिए 10 दिनों तक बंद रखने का आदेश दिया था। अब अन्य स्कूलों में संक्रमण के मामले आ गए।

राज्य सरकार के आदेशानुसार कक्षा नवी से 12वीं तक की सभी स्कूलें और कॉलेज 2 नवंबर से खुल गए हैं। इसी तरह कक्षा छह से आठ तक की कक्षाएं आगामी 23 नवंबर से शुरू होंगी।

इसके अलावा कक्षा एक से पांच तक की कक्षा आगामी 14 दिसंबर से शुरू होंगी। अभिभावकों की मंजूरी के बाद ही विद्यार्थियों को स्कूल में बुलाया जाएगा। इसके अलावा शुरुआत में बच्चों को आधे दिन ही स्कूलों में रखा जाएगा।

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...