वीडियो देखिये, कोरोना वॉरियर्स पर मध्य प्रदेश पुलिस न बरसाई लाठी madhya pradesh coronawarriors lathicharge

ख़बरें

वीडियो देखिये, कोरोना वॉरियर्स पर मध्य प्रदेश पुलिस न बरसाई लाठी

तर्कसंगत

Image Credits: Twitter

December 4, 2020

SHARES

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना वॉरियर्स (Corona Warriors) पर शिवराज में लाठियां (Lathicharge) बरसाई जा रही हैं. इन कोरोना वॉरियर्स की मांग है कि उन्हें नौकरी से न निकाला जाए. ध्यान रहे कि कोरोना वायरस के संक्रमण की शुरुआत में जब हर कोई एक-दूसरे से दूर भाग रहा था तो यही कोरोना वॉरियर्स संक्रमित लोगों की पहचान कर उनका इलाज कर रहे थे. लेकिन इन्हीं पर अब मध्य प्रदेश की बीजेपी सरकार अत्याचार कर रही है.

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल. यहां के नीलम पार्क में तीन दिनों से लगभग 500 हेल्थ वर्कर्स धरने पर बैठे थे, जिनके ऊपर पुलिस ने गुरुवार यानी 3 दिसंबर को जमकर लाठीचार्ज किया और प्रदर्शन स्थल से खदेड़ दिया.  ‘इंडिया टुडे’ के रवीश पाल सिंह की रिपोर्ट के मुताबिक, हेल्थ वर्कर्स अपने जॉब को नियमित करने की मांग कर रहे थे.

 

 

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के समय सरकार ने पूरे राज्य में करीब 6123 लोगों के साथ 3 महीने का कॉन्ट्रैक्ट कर उन्हें कोरोना वॉरियर्स बनाया था. इन्हें सरकार ने दैनिक वेतनभोगी की तरह वेतन भी दिया. लेकिन, अब सरकार ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखाना शुरू कर दिया है. इसी बात को लेकर ये दैनिक वेतनभोगी धरना दे रहे हैं और नियमित करने की मांग कर रहे हैं. इन लोगों के मुताबिक सरकार 60 फीसदी लोगों को बाहर का रास्ता दिखा चुकी है.

 

आरोप- सरकार ने इस्तेमाल किया और फेंक दिया

राज्य में ये कोरोना वॉरियर्स 3 महीने के कॉन्ट्रैक्ट बेस पर नियुक्त किए गए थे, परंतु ये महामारी 3 महीने में खत्म नहीं हुई और समय बढ़ गया. इसके बाद सरकार ने इनसे कोई कॉन्ट्रैक्ट नहीं किया और 9 महीने लगातार काम कराया. अब इनका कहना है कि अगर सरकार ने हमें 3 महीने का कॉन्ट्रैक्ट दिया था तो हमें 3 महीने बाद निकाल देना था. सरकार ने हमारा इस्तेमाल किया और अब निकाल रही है.

कोरोना योद्धाओं की मांग है कि उन्हें स्थाई किया जाए. इसी सिलसिले में वे भोपाल के नीलम पार्क में प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलने की मांग कर रहे थे, इसी बीच पुलिस ने उन पर लाठियां बरसाईं.

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...