Mamta Banarjee, TMC BJP, Ravishankar Prasad, West Bengal, West Bengal Police

ख़बरें

बीजेपी ने टीएमसी पर साधा निशाना, कहा- ‘सांस्कृतिक पारंपरिक वाला राज्य ममता राज में दिवालिया प्रदेश बन गया’

Nishant Kumar

September 14, 2022

SHARES

नई दिल्ली: बंगाल में पुलिस अत्याचार के जरिए भाजपा के मार्च को दबाने का आरोप लगाते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा के दिग्गज नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि बंगाल की सरहद के बाहर लोकतंत्र को बचाने की बात करने वाली ममता बनर्जी ने बंगाल के अंदर लोकतांत्रिक अधिकारों के हनन में सारी सरहदें पार कर दी हैं. उन्होंने तृणमूल का मतलब बताते हुए ममता बनर्जी को अपनी पार्टी का नाम बदलने की नसीहत भी दी.

प्रसाद ने राज्य सरकार द्वारा किए गए अत्याचार की वजह से भाजपा के एक हजार कार्यकर्ता के घायल होने, चार सौ के अस्पताल में जाकर इलाज कराने और गंभीर रूप से घायल तीस कार्यकर्ता के अभी भी अस्पताल में भर्ती होने की बात कहते हुए चेतावनी दी कि इसके बावजूद तृणमूल कांग्रेस सरकार के भ्रष्टाचार के खिलाफ भाजपा का आंदोलन जारी रहेगा और भाजपा हर संवैधानिक प्रक्रिया का उपयोग करेगी.

ममता सरकार भ्रष्टाचार में डूब गई है
बंगाल में मंगलवार को अत्याचार और राजनीतिक आंतरिक हनन की प्रकाष्ठा होने का आरोप लगाते हुए प्रसाद ने पूछा कि ममता बनर्जी सरकार भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी हुई है, भारी मात्रा में कैश बरामदगी हो रही है, जांच एजेंसियां जांच कर रही है और अदालत से भी इनको राहत नहीं मिल रही है तो ऐसे में इनके खिलाफ विरोध प्रदर्शन क्यों नहीं होना चाहिए ?

भाजपा मुख्यालय में मीडिया से बात करने के दौरान उन्होंने भाजपा के प्रदर्शन के दौरान महिला नेताओं की पिटाई का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा के प्रदर्शन के दौरान रास्ते बंद करवा दिए गए, आने से रोका गया, भाजपा कार्यकर्ताओं की यहां तक कि महिला कार्यकर्ताओं और नेत्रियों की भी पिटाई की गई. प्रदेश अध्यक्ष, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और सांसदों के साथ कैसा व्यवहार किया गया, यह पूरे देश ने देखा है. उन्होंने सवाल पूछते हुए कहा कि भाजपा सरकार के खिलाफ पेटिशन देने वाले रिटायर्ड ब्यूरोक्रेट , मानवाधिकार की बात करने वाले संगठन और लोकतंत्र को लेकर भाजपा सरकार पर हमला करने वाले बड़े-बड़े नेता आज चुप क्यों हैं ?

सांस्कृति परंपरा वाला राज्य दिवालिया प्रदेश बन गया
रविशंकर प्रसाद ने ममता बनर्जी पर सीधा निशाना साधते हुए कहा कि बंगाल बौद्धिक परंपरा, सांस्कृतिक परंपरा वाला प्रदेश रहा है. लेकिन ममता जी की अगुवाई में कानून विहीन दिवालिया प्रदेश बन गया है. उन्होंने कहा कि लेफ्ट सरकार के कार्यकाल में ममता बनर्जी ने स्वयं पुलिस अत्याचार और लेफ्ट सरकार के दमन को झेला था लेकिन वो सब भूलकर आज लेफ्ट से भी अधिक अत्याचार भाजपा के ऊपर कर रही है.

उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के आंतरिक विवाद को लेकर कटाक्ष करते हुए कहा कि क्या पार्टी के आंतरिक मतभेदों की वजह से और पार्टी पर अपनी पकड़ कमजोर होते जाने की वजह से ममता बनर्जी भाजपा पर अत्याचार कर रही है. उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि ममता बनर्जी जितना अधिक भाजपा को रोकने की कोशिश करेगी , भाजपा राज्य में उतनी ही अधिक मजबूत होगी.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...